छोटी सी बात मुहब्बत की…

घर लौटते वक्त, कभी कोई काम करते समय या अनायास सड़क से गुजरते हुए... न जाने कितने सालों से यह गीत मैं गुनगुना उठता हूं. बहुत सादा से शब्दों वाले इस प्रेम गीत का...

ग्रामोफोन रिकार्ड्स का जादू

सिनेमा की सबसे बड़ी खूबी यह है कि वह अपने आसपास भी एक खूबसूरत सा रचनात्मक संसार रचता हुआ चलता है. मेरे बचपन में ग्रामोफोन के रिकार्ड्स बिक्री और लोकप्रियता के मामले अपने चरम...

कल तुमसे ज़ुदा हो जाउंगा

अपने प्रगतिशील साथियों की तमाम लताड़ सुनने के बावजूद कहीं मेरे भीतर लाइफ की एब्सर्डिटी को लेकर गहरा असंतोष है, जो जब-तब गहरा हो जाता है. यह अवसाद मेरी निजी परेशानियों या तकलीफों से...

हम तुम कुछ और बंधेंगे

जब कभी सिनेमा के बारे में कुछ लिखना चाहता हूं तो दिल यही चाहता है कुछ उन बहुत मामूली सी बातों के बारे में लिखूं जिनका मेरे जीवन में बहुत महत्व रहा है. फिर...

फूलों का तारों का, सबका कहना है

Get this widget | Track details | eSnips Social DNA कभी-कभी कुछ ऐसे गीत याद आते हैं जो स्मृति पर एक अमिट छाप छोड़ चुके हैं. कुछ ऐसे गीत जो हमारे भीतर एक गहरी नैतिकता...

मुबारक, आपको भुला दिया हमने

कभी तनहाइयों में हमारी याद आएगी, अंधेरे छा रहे होंगे कि बिजली कौंध जाएगी... यह गीत आज भी कभी रेडियो में बजता हुआ सुनाई देता है तो एक गहरी उदासी और किसी के बिछोह...